आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi

आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi

Law of attraction in Hindi

आकर्षण का सिद्धांत बहुत ही प्राचीन और प्राकृतिक सिद्धांत है। Law of attraction, ब्रह्मांड के वे सार्वभौमिक (universal) नियम हैं जो सभी के लिए काम करते हैं। यदि आप ये नियम जानते हैं और अपने जीवन में अमल करते हैं तो आप अपनी किस्मत बदल सकते हैं। आज हम अपने लेख (आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi) में इन सिद्धांतों के बारे में जानेंगे।

ये सिद्धांत हर उस व्यक्ति के लिए कार्य करते हैं जो इन्हें समझता है और खुद पर अप्लाई करता है। यदि आप भी खुद के भाग्य के रचयिता बनना चाहते हैं तो इन नियमों को अच्छे से समझना होगा।

क्या है आकर्षण का सिद्धांत | What is law of attraction in hindi

Law of attraction in Hindi

Law of attraction ब्रह्मांड के ऐसे नियम हैं जो हमारी सोच से संबद्ध हैं। आप अपने बारे में क्या सोचते हैं, ये सिद्धांत उसी के अनुरूप कार्य करते हैं। गुरुत्वाकर्षण के नियम हम और आप सभी जानते हैं। ये नियम भी ब्रह्मांड में उसी प्रकार विद्यमान हैं।

यदि आप सच्चे मन से बहुत पैसा, सुख और समृद्धि के बारे में सोचते हैं तो आप ये तरंगें ब्रह्मांड को भेजते हैं। आपकी जैसी सोच होती है उसी प्रकार का वातावरण आप अपने चारों ओर निर्मित करते हैं।

अगर आप सकारात्मक सोचते हैं तो सकारात्मक और नकारात्मक सोचते हैं तो नकारात्मक परिणाम मिलने लगते हैं। आप जिन तरंगों को छोड़ते हैं वे आपके पास लौटकर आती हैं और ये आकर्षण के नियमों द्वारा होता है।

आकर्षण का नियम कैसे कार्य करता है | how does the law of attraction work ?

Law of attraction

भौतिकी का एक नियम है कि जब आप कोई क्रिया करते हैं तो उसके बदले में प्रतिक्रिया अवश्य होगी। मानलो, आप किसी इंसान की तारीफ कर रहे हैं तो बदले में वह भी आपकी तारीफ करेगा। या फिर उस लहजे में बात करेगा जो आपको अच्छी लगे।

और यदि आप किसी को अशिष्ट बात बोलते हैं तो उम्मीद है कि आपको भी प्रतिक्रिया में अशिष्टता सुननी पड़ सकती है। 

ये तो सार्वभौमिक सत्य (universal truth) है कि आप जैसा सोचते हैं, वैसी तरंगें ब्रह्मांड को भेजते हैं। इस प्रकार आपका प्रभामंडल (aura) तैयार होता है जिससे अन्य लोग भी प्रभावित होते हैं। यहां सारा खेल आपकी सोच और अवचेतन मन (subconscious mind) का है।

आप अपने मस्तिष्क में जिस बीज को बोते हैं उसी के संबंधित फल (result) आपको मिलने लगते हैं। यदि आपको आम के फल खाने हैं तो आपको आम का बीज सींचना पड़ेगा, यानी सकारात्मक सोचना (positive thinking) पड़ेगा। अन्यथा कंटीली झाड़ियां (negative thoughts) तो स्वतः ही पनपने लगते हैं। 

अपने अवचेतन मन को वह यकीन दिलाएं जो आप चाहते हैं, वो नहीं जो आप नहीं चाहते। आपका अवचेतन मन सही और गलत में फर्क नहीं कर पाता। वह उसे सच मानता है जो आप उसे बताते हैं। आकर्षण का नियम आपके लिए तभी कार्य करेगा जब आप अपने सोचने का नजरिया बदलेंगे। 

आकर्षण के नियम का उपयोग कैसे करें | how to use the law of attraction

बहुत से लोग तो लॉ ऑफ अट्रैक्शन को मानते ही नहीं क्योंकि वे इसकी शक्ति से अनभिज्ञ हैं। जो लोग इसे जानते हैं, वे ये सोचते हैं कि कैसे आकर्षण के नियम का उपयोग करें? आज हम आपको किताबों और इंटरनेट से एकत्रित जानकारी के अनुसार कुछ और नियमों को बताएंगे।

ये आकर्षण के सिद्धांत से संबंधित वो नियम हैं जो आपको वो सब दिला सकते हैं जिन्हें हासिल करना आपका सपना है। इन नियमों को उपयोग में लाने से आकर्षण के सिद्धांत आपके लिए क्रियान्वित हो जाते हैं। तो आइए जानते हैं इन प्रभावी नियमों के बारे में :-

1. अपने लक्ष्य को कागज पर लिखें | write your Goal on paper

Law of attraction

आपका जो भी लक्ष्य (goal | aim | target) है, उसे एक डायरी में नोट करें। ऐसा आप रोजाना करें क्योंकि daily करने से आप अपने अवचेतन को ये बता रहे हैं कि आप इन चीजों को चाहते हैं।

आपका अवचेतन मन (subconscious mind) बहुत ही शक्तिशाली है। बार – बार लिखी हुई चीजें आपके मस्तिष्क में ऐसे बैठ जाती हैं जैसे कि वे आपकी ही हैं। ये बहुत ही महत्त्वपूर्ण व असरदार नियमों में से एक है, इसे आप आज से ही आजमाएं।

देखिए सिर्फ सोचने से वो चीज हासिल नहीं हो सकती, जिन्हें आप पाना चाहते हैं। अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आपको उसे बार – बार लिखना चाहिए, बोलना चाहिए और देखना चाहिए।

जिन चीजों के बारे में आप जितने बार लिखते, बोलते और देखते हैं, उतनी ही बार आप उसे अपनी ओर आकर्षित करते हैं। ऐसा बार – बार करने से Law of attraction आपके लिए सक्रिय हो जाते हैं।

2. अपनी सोच को सकारात्मक बनाए रखें | Keep your thinking positive

Law of attraction

आपको अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है खुद को सकारात्मक बनाए रखना। यदि आपकी सोच सकारात्मक है तो आप अपनी मनचाही वस्तु के लिए एकाग्रता (concentration) से प्लान तैयार कर सकते हैं।

Positive thinking से समाज में आपकी ऐसी छवि तैयार होती है जिससे अन्य लोग प्रभावित होते हैं। वे आपके विचारों से प्रभावित होकर आपकी तरफ आकर्षित होते हैं। कहने का तात्पर्य यह है कि आप जैसा सोचते हैं वैसा ही आकर्षित करते हैं। 

हम यहां बात कर रहे हैं आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi, की। तो यदि आप बड़ा मुकाम हासिल करना चाहते हैं तो अपने इच्छित लक्ष्य के प्रति जागरूक रहें। एकाग्रचित्त होकर उसके लिए सकारात्मक मानसिक नजरिया (positive mental attitude) रखें। आकर्षण का सिद्धांत हमेशा कार्य करता है और आपके लिए भी करेगा।

3. आप जो चाहते हैं उसकी कल्पना करें | Imagine what you want

किसी भी चीज को हासिल करने के लिए हमारा मस्तिष्क एक इमेज तैयार करता है। यह हमारी कल्पनाशक्ति (imagination) से होता है।

आप क्या चाहते हैं उसके बारे में सोचें, उसको इमेजिन करें। न कि उसे जिसे आप नहीं चाहते। आप सकारात्मक सोचें या नकारात्मक, इससे आपके अवचेतन मन को कोई फर्क नहीं पड़ता।

जब भी आपके मस्तिष्क में कोई विचार आता है तो वह तरंगों के रूप में बाहर निकलता है। ये तरंगें ब्रह्मांड में व्याप्त असंख्य और विभिन्न प्रकार की तरंगों में शामिल हो जाती हैं। जो फ्रीक्वेंसी आपकी कल्पनाशक्ति की तरंगों से मेल खाती है, उसे आपका मस्तिष्क आकर्षित (attract) करता है। 

4. खुद पर विश्वास करें | believe yourself

Believe in yourself

 

किसी भी कार्य में सफलता हासिल करने के लिए सबसे पहले खुद पर विश्वास करना बहुत जरूरी है। खुद पर विश्वास करें और इस ब्रह्माण्ड पर विश्वास करें जहां से हमें सब चीजें हासिल होती हैं। जब हम खुद पर विश्वास करते हैं तो अंदर से स्वयं को परिस्थितियों से लड़ने के लिए मजबूत बनाते हैं। 

आपने एक कहावत तो जरूर सुनी होगी कि, मान लो तो हार है और ठान लो तो जीत। सबसे पहले आप अपने दिमाग में ऐसे विचार लाएं जो आप भविष्य में बनना चाहते हैं। उन विचारों को नजरंदाज करें जिन्हें आप आज तक सोचते थे।

जिस चीज को आप भविष्य में हासिल करना चाहते हैं, उसके बारे में सोचें और बोलें। उसे इमेजिन करके खुद को यह भरोसा दिलाएं कि आप उसे प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप अपने अंदर दृढ़ विश्वास कायम कर लें तो आप उसे हासिल कर सकते हैं जिसकी आपको चाह है। Law of attraction इसी के अनुरूप कार्य करता है। 

इसे भी पढ़ें : स्वयं में विश्वास के लिए | To believe in yourself

5. अपनी विचार प्रक्रिया को बदलें | Change your thought process

आज आप जो हैं या जिन परिस्थितियों में हैं, वह सब आपकी पुरानी और अभी तक की सोच का परिणाम है। खुद के लिए मनचाहे परिणाम पाने हेतु आपको अपनी विचार प्रक्रिया (thought process) को बदलना होगा।

आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi, हमेशा काम करता है। यदि आप ऐसा सोचते हैं कि आकर्षण का सिद्धांत काम नहीं करता, तो यह बिल्कुल सही है आपके अनुसार। लेकिन हकीकत यह है कि ये अभी भी काम कर रहा है, आपकी सोच के अनुसार।

कोई व्यक्ति नहीं चाहता कि उसके साथ बुरा हो, वह आर्थिक तंगी या कोई और परेशानी में आए। वह वास्तविकता पर बहुत अधिक विचार करता है, इसलिए उसके साथ ऐसा होता है। आप जो चाहते हो उसके बारे में विचार करना शुरू करो, आकर्षण के सिद्धांत आपके हित में कार्यरत हो जायेंगे। 

6. विजुलाइजेशन को अपनाएं | Adopt visualization

Law of attraction

आप जिस मुकाम को अपने जीवन में हासिल करना चाहते हैं, उसे अपने सामने विजुअलाइज करें। इच्छित वस्तु को अपनी मनरूपी आंखों से इस प्रकार देखें जैसे कि वह आपके सामने वास्तव में प्रस्तुत है। 

विजुलाइजेशन की पॉवर बहुत ही शक्तिशाली है। जैसे ही हम इसका प्रयोग करना शुरू करते हैं, हमारा अवचेतन इस पर काम करना शुरू कर देता है। आपका अवचेतन मन ही वह माध्यम है, जो आपके लिए Law of attraction को आकर्षित व सक्रिय करता है।

7. अपने अवचेतन मन को वह बताएं जो आप चाहते हैं | Tell your subconscious mind what you want

वास्तविकता को दरकिनार करके आप अपने अवचेतन मन को वह बताएं जो आप भविष्य में चाहते हैं। आपका अवचेतन मन (subconscious mind) बहुत शक्तिशाली है। आप जिन चीजों के बारे में जितना अधिक सोचते या बोलते हैं, उसे आप अपने अवचेतन को बता रहे हैं।

आकर्षण के सिद्धांत और अवचेतन मन आपके समक्ष उसे प्रकट करते हैं जिसके बारे में आप सोचते तथा बोलते हैं। आज आपके पास वह है जिसके बारे में आपने past में सोचा था। भविष्य में जो पाना है, उसके लिए अभी से सोचना शुरू कर दो।

अवचेतन मन हमेशा उन चीजों को आकर्षित करता रहता है जिनके बारे में आप सोचते और बोलते हैं। इसलिए आप के पास जो है उसकी परवाह न करके, वह बोलना शुरू करें जिसे आप चाहते हैं। 

8. सोचने और बोलने का सही तरीका | Right way to think and speak

आकर्षण का सिद्धांत आपके लिए और आपके अनुसार कार्य करे, इसके लिए सही सोचने और बोलने का तरीका अपनाएं। रियलिटी जो भी हो आप जानते हैं, लेकिन भविष्य में आपकी जिंदगी में बदलाव हो जाएं, तो आपको कैसा लगेगा? अच्छा लगेगा न! बहुत अच्छा। 

सुख – समृद्धि, अच्छे स्वास्थ्य और अमीर बनने के लिए इन सुनहरे शब्दों को अपने आप से बोलें। मैं स्वस्थ्य हूं, मैं हेल्दी हूं। मैं अमीर हो रहा हूं, मैं धनवान बन रहा हूं। मैं सुख – समृद्धि को अपनी ओर आकर्षित कर रहा हूं।

इसे भी पढ़ें : अमीर कैसे बनें | how to become rich?

जब आप इस प्रकार से प्रतिदिन बोलना शुरू करेंगे तो धीरे – धीरे आपकी सोच भी इसी तरह की बन जायेगी। इस प्रकार के शब्दों को जब आप रोजाना बोलेंगे तो यही तरंगें आप ब्रह्मांड को भेज रहे होंगे। और बदले में आपको अनुकूल परिणाम मिलने शुरू हो जायेंगे। 

9. दोहराव की प्रक्रिया | Repeating process

दोहराव की प्रक्रिया बहुत ही असरदार है। अमूमन जब हम किसी से कुछ कहते हैं और वो एक बार में सुन या समझ नहीं पाता है। लेकिन जब हम फिर से उसी बात को दोहराते हैं तो वह उसे सुन और समझ लेता है। 

एक और सामान्य सा उदाहरण है जो हम सभी के साथ घटित हुआ है। एक छोटा बच्चा अपने पैरेंट्स के साथ किसी मॉल या दुकान में जाता है। और जब वह कोई खाने वाली चीज या खिलोने के लिए कहता है तो अक्सर उसे अनसुना कर दिया जाता है।

लेकिन जब वो उन्ही शब्दों को बार – बार दोहराता है और जिद पड़ जाता है तो क्या होता है? उसे वो चीज हासिल हो जाती है जिसके लिए वह बार – बार बोल रहा था। 

सार ये है कि दोहराव की शक्ति काम करती है। आप भी उन गोल्डन वर्ड्स को दिन में बार – बार दोहराएं। Law of attraction आपके लिए और आपके हित में काम करेगा। 

आकर्षण के सिद्धांत पर तीस अनमोल विचार | 30 quotes on the Law of attraction

1. “आपका हर विचार एक वास्तविक वस्तु — एक शक्ति है।”

—प्रेंटिस मलफोर्ड

2. “मानसिक शक्तियों के कम्पन ब्रह्मांड में सबसे शक्तिशाली और सर्वश्रेष्ठ होते हैं।”

— चार्ल्स हानेल

3. “अगर आप समृद्ध जीवन जीने की कल्पना करेंगे, तो आप उसे आकर्षित कर लेंगे। यह सिद्धांत हर इंसान के मामले में और हर बार काम करता है।”

— बॉब प्रॉक्टर

4. “अगर आप अपने दिमाग में कोई चीज देख सकें, तो वह आपके हाथ में आ जाएगी।”

—बॉब प्रॉक्टर

5. “प्रबल विचार या मानसिक दृष्टिकोण चुंबक है। नियम यह है कि समान चीजें समान चीजों को आकर्षित करती हैं। परिणामस्वरूप, मानसिक दृष्टिकोण हमेशा अपनी प्रकृति के अनुरूप स्थितियों को आकर्षित करेगा।”

— चार्ल्स हानेल

6. “आकर्षण का नियम हमेशा काम करता है, चाहे आप इस पर यकीन करते हो या नहीं, चाहे आप इसे समझते हो या नहीं।”

— बॉब प्रॉक्टर

7. “आप उन्हीं प्रबल विचारों को आकर्षित करते हैं, जिन्हें आप अपनी जागरूकता में रखते हैं, चाहे वे विचार चेतन हों या अचेतन। यही मूल बात है।”

— माइकल बर्नार्ड बेकविथ

8.“हममें से ज्यादातर लोग बिना सोचे – समझे घटनाओं को आकर्षित करते हैं। हम सोचते हैं कि हमारा इस पर कोई नियंत्रण नहीं है। हमारे विचार और भावनाएं हमारी जानकारी के बिना हमें राह दिखाते हैं और हर चीज हमारी ओर खिंची चली आती है।”

— बॉब डॉयल

9. “आप राह में चलते – चलते अपने ब्रह्मांड का निर्माण खुद करते हैं।”

—  विस्टन चर्चिल

10. “विचार और प्रेम का मिश्रण आकर्षण के नियम को बेहद शक्तिशाली बना देता है।”

— चार्ल्स हानेल

11. “आप प्रार्थना में जो भी मांगेंगे, यकीन करने पर उसे पा लेंगे।”

— मैथ्यू 21:22

12. “जिन भी चीजों की आप इच्छा करते हैं, जब आप प्रार्थना करते हैं और यकीन करते हैं कि आप उन्हें पा लेंगे, तो आप उन्हें सचमुच पा लेंगे।”

— मार्क 11:24

13. “आस्था से पहला कदम उठाएं। आपको पूरी सीढ़ी देखने की जरूरत नहीं है। बस पहला कदम उठा लें।”

डॉ. मार्टिन लूथर किंग, जूनियर

14. “जब आप खुद से कहते हैं, ‘मेरी यात्रा सुखद होगी, ‘तो आप दरअसल जाने से पहले ऐसी शक्तियाँ और तत्व भेज रहे हैं, जो स्थितियों को इस तरह व्यवस्थित कर देंगे, ताकि आपकी यात्रा सुखद हो जाए। जब यात्रा या शॉपिंग जाने से पहले आप बुरे मूड में होते हैं या डरे होते हैं या किसी अप्रिय घटना के प्रति आशंकित होते हैं, तो आप अदृश्य प्रतिनिधियों को अपने आगे भेज रहे हैं जो किसी तरह की अप्रिय स्थिति उत्पन्न कर देंगे। हमारे विचार, या दूसरे शब्दों में, हमारी मानसिक अवस्था हमेशा पहले से ही अच्छी या बुरी चीजों को ‘उत्पन्न करने’ का काम करती है।”

— प्रेंटिस मलफोर्ड

15. “हम जो भी हैं, अपने पुराने विचारों के कारण हैं।” 

— महात्मा बुद्ध

16. “यह शक्ति क्या है, यह मैं नहीं बता सकता। मैं तो बस इतना जानता हूं कि यह है।”

— अलेक्जेंडर ग्राहम बेल

17. “हर व्यक्ति मानसिक तस्वीर देखता है, चाहे उसे यह बात मालूम हो या न हो। मानसिक तस्वीर देखना सफलता का महान रहस्य है।”

— जेनेवीव बेहरेंड

18. “कोई भी चीज आपकी तस्वीर को साकार होने से नहीं रोक सकती, सिवाय उस शक्ति के जिसने उसे उत्पन्न किया था — यानी आप।”

— जेनेवीव बेहरेंड

19. “कल्पना ही सब कुछ है। यह जीवन के आगामी आकर्षणों का पूर्वदर्शन है।”

— अल्बर्ट आइंस्टाइन

20. “मस्तिष्क जिस चीज की … कल्पना कर सकता है, उसे यह हासिल भी कर सकता है।”

— डब्ल्यू. क्लीमेंट स्टोन

21. “आत्मिक खजाना, जिससे सारी दिखने वाली दौलत मिलती है, कभी खाली नहीं होता है। यह हर समय आपके पास है और आपकी आस्था तथा मांगों के अनुरूप प्रतिक्रिया करता है।”

— चार्ल्स फिलमोर

22. “प्रेम हासिल करने के लिए … इसे अपने भीतर तब तक भरें, जब तक कि आप चुंबक न बन जाएं।”

— चार्ल्स हानेल

23. “जहां तक संभव हो, हमें याद रखना चाहिए कि हर अप्रिय विचार एक बुरी चीज की तरह होता है, जिसे हम अपने शरीर में रखते हैं।”

— प्रेंटिस मलफोर्ड

24. “जिसका आप प्रतिरोध करते हैं, वह जारी रहता है।”

— कार्ल युंग

25. “इस नियम का सार यह है कि आपको प्रचुरता के बारे में सोचना चाहिए; प्रचुरता देखना चाहिए, प्रचुरता महसूस करना चाहिए, प्रचुरता में यकीन करना चाहिए। सीमा के किसी भी विचार को अपने मस्तिष्क में दाखिल होने की इजाजत न दें।” 

— रॉबर्ट कॉलियर

26. “यह नियम आपके लिए क्या कर सकता है, इसकी कोई सीमा नहीं है। अपने आदर्श स्वरूप में यकीन करने की हिम्मत करें। उस आदर्श स्वरूप के बारे में इस तरह सोचें, जैसे यह सच हो चुका है।”

— चार्ल्स हानेल

27. “अगर आप सोच लें कि आप कर सकते हैं या यह सोच लें कि आप नहीं कर सकते हैं, तो दोनों ही मामलों में आप सही हैं।”

— हेनरी फोर्ड

28. “हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिए कि आप क्या सोचते हैं, शब्द गौड़ हैं, विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं।”

— स्वामी विवेकानंद

29. “जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते तब तक भगवान पर विश्वास नहीं कर सकते।”

— स्वामी विवेकानंद

30. “जब कोई विचार अनन्य रूप से मस्तिष्क पर अधिकार कर लेता है, तब वह वास्तविक भौतिक या मानसिक अवस्था में परिवर्तित हो जाता है।”

— स्वामी विवेकानंद

दोस्तो, लॉ ऑफ अट्रैक्शन के बारे में हमने इस लेख (आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi) में बताने का प्रयास किया है। मुझे आशा है कि आपको ये लेख पसंद आएगा। आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं कि ये आर्टिकल आपको कैसा लगा। आपके कमेंट हमारे लिए बहुत महत्त्वपूर्ण हैं। और हां, आपको अच्छा लगे तो इसे अपने दोस्तों को शेयर अवश्य करें।

— 🙏 धन्यवाद 🙏 —

One thought on “आकर्षण का सिद्धांत | Law of attraction in Hindi

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.